सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज की पुस्तकें फ्री में प्राप्त करने के नियम व शर्तें अवश्य पढ़े - SatsangdhyanGeeta

Ad4

सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज की पुस्तकें फ्री में प्राप्त करने के नियम व शर्तें अवश्य पढ़े

सद्गुरु महर्षि मेंहीं की साहित्य फ्री में

      प्रभु प्रेमियों ! आपको यह जानकर खुशी होगी कि  अखिल भारतीय संतमत सत्संग प्रकाशन विभाग की ओर से गुरु महाराज की सभी पुस्तकों का पीडीएफ फाइल फ्री में प्रदान किया जा रहा है.  जिसे "सत्संग ध्यान स्टोर" की ओर से भी सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज की पुस्तकीय ज्ञान सभी लोगों को प्राप्त हो, इसके लिए जो भी इस स्टोर से कोई भी सामग्री खरीदते हैं, तो उन्हें गुरु महाराज के पुस्तक का पीडीएफ फ्री में प्रदान किया जाता है, इसके लिए मात्र उन्हें व्हाट्सएप पर एक मैसेज करना होगा अथवा आपके व्हाट्सएप नंबर पर सत्संग ध्यान स्टोर स्वयं भेज देगा. यह सेवा केवल ऑनलाइन ग्राहकों के लिए है. इसके लिए आपको क्या करना होगा ? इसे  आपलोग स्पष्ट रूप से समझ लें।

सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज की पुस्तकें फ्री में प्राप्त करने के नियम व शर्तें

पुस्तक फ्री में प्राप्त करने के नियम व शर्तें-

    प्रभु प्रेमियों ! "सत्संग ध्यान स्टोर" के प्रत्येक ग्राहक ( चाहे, वे इंस्टामोजो, ऐमोजोन, सत्संग ध्यान, गूगल माय बिजनेस या अन्य वेवसाईट में से कोई हो जिसका संचालन सत्संग ध्यान स्टोर की तरफ से होता है.) कोई भी मूल पुस्तक अथवा किसी अन्य प्रकार के सामान खरीदेंगेे; वे  सद्गुरु महर्षि मेंही परमहंस जी महाराज के सभी पुस्तकों का पीडीएफ प्राप्त करने के अधिकारी होंगे. हां 😌 ई-बुक  या पीडीएफ खरीदनेेेे पर उपहार  नहीं मिलेगा। 

     😌 "सत्संग ध्यान स्टोर" से कोई भी पुस्तक या सामग्री एक से पांच प्रति तक खरीदने पर एक प्रति वाले एक और 5 प्रति वालेे पांच। इसी तरह दो प्रति वाले को दो, तीन प्रति वाले को तीन, चार प्रति वाले को चार और 5 प्रति वालेे को 5 पुस्तकों के पीडीएफ बुक या ई-बुक फ्री में दिया जाएगा, जो केेवल सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज की पुस्तकों में से कोई भी पुस्तक हो सकता है। अर्थात ग्राहक अपनी पसंद की सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज की कोई भी पुस्तक का  ई-बुक   प्राप्त कर सकता है। प्रत्येक ग्राहक पहली 5 खरीदारी तक 5 पुस्तकों का  ई-बुक  मुक्त में प्राप्त कर सकते हैं। पांच पुस्तकों की खरीदारी के बाद और पुस्तकें या अन्य सामग्री ऑनलाइन खरीदारी करनेवाले ग्राहकों को उपहार नहीं, बल्कि उसे फ्री ई-बुक पुस्तकों का खजाना की जानकारी दी जाएगी । 
     प्रत्येक उपहार पाने के लिए अपने बिल का  स्क्रीनशॉट की प्रति हमारे व्हाट्सएप नंबर 7547006282 पर भेजें और पुस्तक का नाम भी बताएं जो पुस्तक आपको ई-बुक के रूप में चाहिए। सबसे महत्त्वपूर्ण बात यह हैै  कि आप ई-बुक अपने व्हाट्सएप नंबर पर ही ले सकते हैं। निम्नलिखित चित्र मेंं ई-बुक  पुुस्तक-सूूूूची है-


फ्री इबुक सूची, महर्षि मेंही साहित्य सूची, संतमत सत्संग प्रकाशन की पुस्तकें,
फ्री ई -बुक सूची

     प्रभु प्रेमियों! सत्संग भवन स्टोर से अभी कोई भी सामग्री ऑनलाइन खरीदें और एक निश्चित उपहार प्राप्त करें.



 

सद्गुरु महर्षि मेंहीं साहित्य सुमनावली



एमएस01  । सत्संग - योग  (चारो भाग)   एमएस02. रामचरितमानस - सार, MS03 । वेद दर्शन - योग, MS04। विनय - अखबार - सार, MS05 . श्रीगीता - योग - प्रकाश, भारती (हिन्दी), MS05a । श्री गीता-योग-प्रकाश (अंग्रेजी अनुवाद), MS06। संत युगांडा MS07 . महर्षि माहीं - पदावली MS08 . मोक्ष दर्शन भारती (हिंदी), MS08a। मोक्ष दर्शन अंग्रेजी अनुवाद, MS09। ज्ञान - योग - टाइट ईश्वर, MS10। ईश्वर का स्वरूप और वातावरण, . एमएस11. भावार्थ - सहित घटरामायण - पदावली , MS12 . सत्संग - सुधा ,प्रथम भाग, MS13. सत्संग सुधा , दूसरा भाग, MS14 । सत्संग - सुधा , पृथ्वी भाग, MS15 . सत्संग - सुधा , चौथा भाग, MS16. राजगीर दिल्ली सत्संग, एमएस17। हाँ महर्षि में सत्संग - सुधा सागर भाग 1, MS19 . महर्षि में सत्संग - सुधा सागर भाग 2, 





सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज की पुस्तकें फ्री में प्राप्त करने के नियम व शर्तें । संतमत के संस्थापक
संतमत के संस्थापक

सत्संग ध्यान ऑनलाइन स्टोर की पुस्तकें

     प्रभु प्रेमियों! सत्संग ध्यान ऑनलाइन स्टोर में सद्गुरु महर्षि मेंहीं की सभी पुस्तकें एवं उनके सभी पुस्तकों का ई-बुक उपलब्ध है। इसके साथ ही पूज्य पाद संतसेवी जी महाराज, पूज्य पाद शाही स्वामी जी महाराज, पूज्य पाद हरिनंदन जी महाराज, पूज्य पाद भगीरथ जी महाराज, पूज्य पाद छोटे लाल दास जी महाराज, पूज्य पाद अच्युतानंद जी महाराज एवं संतमत के अन्य वरिष्ठ महात्माओं की पुस्तकें उपलब्ध हैं। इन सभी पुस्तकों की खरीदारी आप सत्संग ध्यान ऑनलाइन स्टोर से कर सकते हैं ।खरीदारी के बाद आपको भारतीय डाक द्वारा आप की खरीदी हुई वस्तुएं या पुस्तकें आपके घर पर 10-15 दिन के अंदर में पहुंचा दिया जाएगा। प्रथम प्रत्येक खरीदारी पर सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज की ई-बुक लेना भूलें।


सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज की पुस्तकें फ्री में प्राप्त करने के नियम व शर्तें । संतमत के संत
संतमत के संत

 फ्री की पुस्तकें प्राप्त करने के नियम

     प्रभु प्रेमियों ! सत्संग ध्यान स्टोर से ऊपर वर्णित कोई भी पुस्तक आप खरीद सकते हैं। प्रथम पांच खरीदारी तक जो पुस्तक आपको फ्री में मिलेगी। वह आपको आपके व्हाट्सएप नंबर पर भेज दिया जाएगा। हमारा व्हाट्सएप नंबर 7547006282 है। आपको जो पुस्तकें चाहिए। उसके लिए आप हमें इसी नंबर पर एक मैसेज भेज देंगे-कि हमें गुरु महाराज की यह पुस्तक चाहिए, मैसेज प्राप्त होने के बाद आपको पुस्तकें भेज दी जाएगी। आपने बुक स्टोर से कौन सा बुक खरीदा है इसकी भी जानकारी मैसेज में होना चाहिए.

विनम्र निवेदन

     प्रभु प्रेमियों! "सत्संग ध्यान स्टोर" से फ्री पुस्तकों के बारे में जानकारी के बाद आप लोगों से एक विनम्र निवेदन है कि आप लोग हमारे इस ब्लॉग का सदस्य बनें। जिससे आने वाले पोस्ट की सूचना आपको प्राप्त होगी। यह बात आप अपने इष्ट मित्रों को भी बता दें। जिससे वे भी इससे लाभान्वित हो सकें। निम्न वीडियो  में फ्री पुस्तक मिलनेेे वाली  उपर्युक्त बातें बताई गई है।



सत्संग ध्यान स्टोर सामग्री-सूची

प्रभु प्रेमियों ! सद्गुरु महर्षि मेंहीं की पुस्तकें, चित्र, लौकेट, कलम, आसनी एवं सत्संग ध्यान से संबंधित अन्य सामग्री "सत्संग ध्यान स्टोरपर ऑनलाइन एवं ऑफलाइन उपलब्ध है. उन सामग्रियों की सूची देखने के लिए   यहां दबाएं।


---------------------------
नोट- यह कार्यक्रम फ्री में पीडीएफ फाइल देने वाला 'सत्संग ध्यान स्टोर' कभी भी बंद कर सकता है। इसके लिए वह पूरा स्वतंत्र है।
सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज की पुस्तकें फ्री में प्राप्त करने के नियम व शर्तें अवश्य पढ़े सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज की पुस्तकें फ्री में प्राप्त करने के नियम व शर्तें  अवश्य पढ़े Reviewed by सत्संग ध्यान on 6/11/2019 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

प्रभु-प्रेमी पाठको ! ईश्वर प्राप्ति के संबंध में ही चर्चा करते हुए कुछ टिप्पणी भेजें। श्रीमद्भगवद्गीता पर बहुत सारी भ्रांतियां हैं ।उन सभी पर चर्चा किया जा सकता है।
प्लीज नोट इंटर इन कमेंट बॉक्स स्मैम लिंक

Ad3

Blogger द्वारा संचालित.